धनु राशि के जातकों के लिए वर्ष 2021 का वर्षफल

क्या वाकई में यह किस राशि के लिए इक्कीस साबित होने वाला है और किन राशियों के लिए उन्नीस साबित होने वाला है।

0
266
धनु राशि के जातकों के लिए वर्ष 2021 का वर्षफल
धनु राशि के जातकों के लिए वर्ष 2021 का वर्षफल

धनु राशि के जातकों के लिए वर्ष 2021 का वर्षफल
Year 2021 Sagittarius for Virgo Jatakas


वर्ष 2021 आप सभी के लिए ढेर सारी खुशियां लेकर आए। आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण हों आप सभी स्वस्थ और समृद्ध बनें। ज्योतिष के माध्यम से 2021 का विश्लेषण करने का बहुत ही संक्षेप में और बहुत ही ईमानदारी पूर्ण प्रयास कर रहे हैं। क्या वाकई में यह किस राशि के लिए इक्कीस साबित होने वाला है और किन राशियों के लिए उन्नीस साबित होने वाला है।
धनु राशि के जातकों के लग्नेश यहां पर आपको द्वितीय भाव में बैठे हुए नजर आ रहे है और साथ ही युति वो कर रहे हैं, शनि देव के साथ में ये दोनों जो स्थितियां है ये थोड़ी सी जी ज्यादा नहीं थोड़ी सी चिंता जनक यहां परिस्थिति निर्मित कर रही हैं। सबसे पहली बात तो साडे साथ ही यहां पर धनु राशि के जातकों को वर्ष पर्यन्त परेशान करती रहेगी और साथ ही द्वितीय भाव में जो नीच राशि के लग्नेश गुरु है वो कहीं न कहीं विवेक की क्षति करते हुए नजर आ रहे हैं। साथियों पर जिसने दी है परेशानी वही करेगा मेहरबानी, अर्थात हम एक ऐसे विलक्षण और बहुत आसान उपाय। जिस पर चल करके जिसका अनुशरण करके आप सभी प्रकार की समस्याओं से बहुत हद तक बच करके रह सकते हैं। साथ ही यह कहावत आपने अभी हमारे शीर्षक में भी पढ़ी है और बचपन से आपने कई बार सुनी भी होगी। आ बैल मुझे मार कौन ऐसा करता है। क्या ऐसा व्यक्ति आप कहेंगे कि कोई पागल ही होगा जो बैल से कहेगा कि भई आ बैल मुझे मार।
जब हम मनुष्य की बात करते हैं तो दो ऐसी परिस्थितियां हो सकती हैं। जब व्यक्ति इस प्रकार की हरकत कर बैठे कि आप बैल मुझे मार। सबसे पहली बात तो वह अज्ञानतावश ऐसी हरकत कर सकता है। किसी समस्या का जिसका उसको पता नहीं है। मान लीजिए उसने कभी बैल को देखा ही नहीं बैल के व्यवहार बैल के स्वभाव से उसको बिल्कुल भी किसी प्रकार का ज्ञान नहीं है वो ही ऐसा करेगा अर्थात परिस्थितियों से अज्ञानता के चलते व्यक्ति स्वयं समस्याओं को आमंत्रित करता है और दूसरी बात अति आत्मविश्वास में ओवर कॉन्फिडेंस में या विनाश काल जब विपरीत बुद्धि हो जाए व्यक्ति तब वो इस प्रकार की हरकतें कर सकता है।
धनु राशि के जातक इस प्रकार की हरकत से 2021 की समय न करें इसी को साव चेती चाहे आप वृष को निवेदन का नाम दीजिए परिस्थितियां बार बार आपको ललकार देंगी कि आप ऐसी हरकत करें जिसको कि लोग कहें कि इसको देखिये इस स्वयं समस्या को आमंत्रित किया है परंतु ज्योतिष हमें वो माध्यम वो स्थितियां प्रदान करता है कि हम आनेवाले भविष्य को देख सकें और उसके अनुसार निर्णय बेहतर जीवन के लिए ले सकें।

वर्ष प्रारंभ से अप्रेल

वर्ष प्रारंभ के लगभग तीन माह अर्थात जनवरी फरवरी मार्च और 5 अप्रेल तक ऐसे ललचाने वाले आपको बहुत से निर्णय करने के अवसर मिलेंगे। ऐसे निवेश के अवसर मिलेंगे कि यदि मैंने अभी यहां पर निवेश नहीं किया तो मैं बहुत बड़ा मूर्ख साबित हो सकता हूं आने वाले वक्त में यदि आपकी शादी नहीं हो पा रही है और आपको कोई ऐसा रिश्ता आ जाए जो आपके सपनों के राजकुमार या सपनों की रानी जैसा हो और आपको लगे कि नहीं मुझे तो तुरंत अभी यहां पर शादी संपन्न कर लेना चाहिए। ठहरिए साथ ही जल्दबाजी मत करिए 2021 के प्रथम तीन माह धनु राशि को इसी प्रकार की हरकत करने के लिए ललचा आयेंगे जो कि ये साबित करें कि इन्होंने आ बैल मुझे मार वाली कहावत को चरितार्थ किया है। इन तीन महीनों में आपको अतिरिक्त सावधानी बरतनी है।
आपको अपनी निजी जिन्दगी में अपनी व्यावसायिक जिन्दगी में आस पास हमेशा बहुत सतर्कता के साथ में जीवनयापन करना और ऐसा नहीं है कि आप वो कोई निर्णय ले ही न। यदि आप कुंवारे हैं तो शादी का प्रस्ताव आपको जरूर स्वीकार करना चाहिए परंतु किसी विद्वान से कुण्डली मिलान के बाद यदि आप बड़ी धनराशि निवेश कर रहे हैं। तो ऐसे लोग जिनको कि वित्त की आर्थिक गतिविधियों की जानकारी है उनसे सलाह जरूर लें जल्दबाजी आपके लिए घातक साबित हो सकती है। निर्णय अंतिम आपको लेना है।

मई

साथ ही बात यदि आगे की मैं करूं मई माह की तो धार्मिक कार्यों के आयोजन में आपको बढ़चढ़कर हिस्सा लेने का आपको यहां पर मौका मिलता हुआ स्पष्ट नजर आ रहा है सज्जनों सद् गुरुओं का यहां पर आपको सानिध्य और आशीर्वाद स्पष्ट रूप से मिलेगा। मंगल कार्य पर आपकी धनराशि खर्च होती है।
यदि आपको रक्त से संबंधित कोई बीमारी जिसमें कि ब्लड प्रेशर भी शामिल है परन्तु रक्त विकार से संबंधित कोई बीमारी है तो यहां पर आपको अतिरिक्त सावधानी जरूर बरतनी चाहिए और रिश्तेदारों की मदद भी यहां पर आपको किसी न किसी प्रकरण में जरूर इस माह अवश्य मिलेगी।

जून और जुलाई

जून और जुलाई यदि इन दोनों महीनों की यदि बात करें हम तो सूर्य की दृष्टि के कारण हर स्थान पर आपको अकारण ही क्रोध आ जाएगा। जैसे सूर्य में कैसे अग्नि धधक जा रही है वैसे ही आपके मन और मस्तिष्क में इस टाइम पीरियड के अंदर अग्नि धधकती रहेगी। आप जिधर भी दृष्टिपात करेंगे जिधर भी जाएंगे जिससे भी बात चीत करेंगे आपको उसमें स्वतः ही कमियां नजर आएंगी।,नकारात्मक नेगेटिविटी ही आपको नजर आएगी। आप अपने विवेक का इस्तमाल करें। अपनी भावनाओं पर काबू पाएं। अपने क्रोध पर अपने अज्ञान पर विजय प्राप्त करें और इस प्रकार की हरकतें न करें। अनावश्यक क्रोध से बचें नहीं तो वो ही बात आ बैल मुझे मार वाली आप पर लागू होगी। आप अपने ही मित्रों अपने ही परिजनों अपने ही शुभचिन्तकों से दुश्मनी भी मोल ले करके बैठ सकते हैं। ऐसी हरकत कदापि न करें। विवेक का प्रयोग करें।

अगस्त और सितंबर

अगस्त और सितंबर में महिलाओं के लिए बहुत ख़ुशी का माहौल यहां पर है। सूर्य को अपने भाई से मायके से बहुत अच्छी मदद मिल सकती है जो कि उनके लिए बहुत कारगर साबित होगी। यदि वह अपने घर का सपना संजो के बैठी है तो इस टाइम पीरियड के अंदर उनका ये सपना जो है वो भी साकार हो सकता है। ऐसे लोग जो कि कला के क्षेत्र में हैं उनकी ख्याति में सम्मान में वृद्धि होगी और उनको किसी न किसी बड़े मंच पर ब्रेक अवश्य मिलेगा

अक्टूबर

अक्टूबर माह में ऐसे जातक जो कि कहीं दूर दराज कार्य कर रहे है लौटकर अपने घर आ सकते हैं परिजनों का साथ में वो समय व्यतीत करेंगे बहुत अच्छा और सुखद माहौल घर का रहेगा। आमोद प्रमोद पर थोड़ा खर्चा होगा। यात्रा का यहां पर अवसर मिलता है परन्तु दक्षिण की दिशा में यात्रा आपको इस समय भूलकर भी नहीं करनी है और आर्थिक निर्णय जो है वो यहां पर आपको थोड़े से पुरी जा सकते हैं ।

नवम्बर और दिसम्बर

नवम्बर और दिसम्बर आपके लिए एक सौगात से बिल्कुल भी कम नहीं है। आपकी आज्ञा का पालन होगा। आपकी जो मनोकामना है लम्बे समय से जो लंबित थी उसकी पूर्ति का ये काल है। श्वास संबंधी रोग जो है उसकी जकड़न में आने से बचने के लिए आप पहले ही सावधानी बरतें। नया कोई कार्य प्रारंभ करना हो तो उसके लिए यह बहुत उचित और बहुत ही कारगर व बहुत ही अनुकूल यहां पर समय है। परिवार में कोई मांगलिक कार्य और खासतौर पर विवाह संपन्न होने की यहां पर दृष्टि बिल्कुल स्पष्ट नजर आ रही है।
2021 शुभ धनु राशि के लिए मंगलमय हो ऐसी कामना हम पुनः ईश्वर से करते हैं और जितनी हमने नकारात्मक बातें कही हैं साती को लेकर के या फिर नीच के गुरु को लेकर कि यदि इन दोनों ही स्थितियों से आप बचना चाहते हैं आप उस बैल से बचना चाहते है जो आपको समस्याओं के गड्ढे में धकेल सकता है तो आपको प्रति शनिवार को दशरथ कृत शनि स्रोत्र का पाठ वर्ष पर्यन्त अवश्य करना चाहिए। सभी स्वस्थ समृद्ध और शांतिपूर्वक जीवन व्यतीत करें।