तुला राशि के जातकों के लिए वर्ष 2021 का वर्षफल

तुला राशि के जातकों की साथी पूरी दुनिया आधुनिकीकरण डिजिटलाइजेशन तकनीक की तरफ बढ़ रही है

0
248
तुला राशि के जातकों के लिए वर्ष 2021 का वर्षफल
तुला राशि के जातकों के लिए वर्ष 2021 का वर्षफल

तुला राशि के जातकों के लिए वर्ष 2021 का वर्षफल
Year 2021 Sagittarius for Virgo Jatakas


आगामी वर्ष जिसका नाम 2021 पर क्या वो वाकई में आपकी राशि के लिए इक्कीस साबित होने वाला है। तुला राशि के जातकों की साथी पूरी दुनिया आधुनिकीकरण डिजिटलाइजेशन तकनीक की तरफ बढ़ रही है। हर व्यवसाय हर व्यक्ति चाहे शौक से या मजबूरी से तकनीक सीख रहा है और अपने व्यवसाय अपने व्यापार अपनी नौकरी और अपने जीवन को डिजिटल करने पर लागू करने पर लगा हुआ है। साथ ही इसके दूसरे पक्ष भी हैं और तुला राशि के जातकों को बेहद सावधान रहना है।
तकनीक से 2021 मैं कोई ऐसी चोट,कोई ऐसा धोखा, कोई ऐसा जख्म तकनीक के माध्यम से व्यक्ति को मिल सकता है जो लंबे समय तक उसको सालता रहेगा। नुकसान चाहे आर्थिक हो या मानसिक। व्यक्ति को वो अंदर से तोड़ ही देता है । कम से कम 2021 के लिए चर्चा में हम आगे बढ़ें इससे पहले एक नजर डालते हैं वर्ष प्रवेश की तुला राशि की जन्म पत्रिका पर। साथ ही बहुत ही सुंदर और बहुत ही अच्छे योग हैं क्योंकि कुछ खुशखबरी हमें यहां पर मिलने वाली है रोचक और शशि। ये दोनों पंच महापुरुष योग भी यहां पर निर्मित हो रहे हैं।

वर्ष प्रारंभ से फरवरी

वर्ष प्रारंभ से लेकर के 2021 की जो फरवरी हैलगभग डेढ़ माह या जनवरी से लेकर के 21 फरवरी तक मंगल की जो दृष्टि है वह इस जातक में तुला राशि के जातक में अन्य से सजी क्रोध उत्तेजना चिड़चिड़ापन इन सबका संचार करेगी। कोई गुप्त चिंता कोई अज्ञात भय तुला राशि के जातकों को अंदर ही अंदर सताता रहेगा। वो अपनी तरफ से परिवार की पूरी मदद करना चाहते हैं। आर्थिक स्तर पर खर्चों में मदद करना चाहते हैं और करते भी हैं परंतु परिवार के ही किसी सदस्य द्वारा उन्हें बदले में अपमान मिलता है और ये जो अपमान हैं वो उनको अंदर से तोड़ देता है परन्तु आपको घबराने की जरूरत नहीं है आगे बहुत सी खुशखबरी अभी आपका इन्तजार कर रही है।

मार्च और अप्रैल

मार्च और अप्रैल की यदि बात करें तो शुक्र अपनी उच्च राशि मीन में यहां पर है तो ऐसे में तुला राशि के जातकों को आकस्मिक धन योग आकस्मिक राजयोग और आकस्मिक लाभ इसका बहुत ही सुंदर और बेहद खुशनुमा माहौल यहां पर बनने वाला है। कोर्ट का यदि कोई फैसला है तो वो भी आपके पक्ष में आने का यहां पर पूरी तरीके से बेहद सुंदर योग निर्मित हो रहा है।
व्यापार को आप यदि अपने डिजिटल प्लेटफॉर्म पर ले जाना चाहते हैं उसमें आप सफल रहेंगे परंतु आपको यहां पर डिजिटली थोड़ा सा सावधान रहना है किसी अच्छे तकनीकी एक्सपर्ट की आपको मदद लेनी है और जितने हमले डिजिटल माध्यम से आपके बैंक अकाउंट पर हो सकते हैं उन सबको आपको पूरी तरीके से पुख्ता सुरक्षा में रखना है। इसी दौरान कुछ पुराने विवाद सामने आ सकते हैं चाहे वो आपके पारिवारिक विवाद हों या व्यापारिक विवाद। वो वापस से जिसको आप भूल चुके है आपके समक्ष आ सकते हैं।

मई

मई मैं जब शुक्र अष्टम भाव में संचार कर रहा है इस समय अब व्यय बढ़ेगा। जो आप ये सोच करके खर्च कर रहे हैं कि इससे मुझे आनेवाले वक्त में लाभ मिलेगा। यहां पर दोबारा जरूर सोचेगा क्योंकि अष्टमेश जो शुक्र है वो व्यक्ति से अब वह जरूर करवाता है जिस उद्देश्य से आप खर्चा कर रहे हैं वो उद्देश्य आपका पूरा बिलकुल भी यहां पर नहीं हो पाएगा। खासतौर से महिला जातकों को इसका ध्यान रखना चाहिए। जरूरत से ज्यादा खर्च करने से उनको बचना चाहिए।
यात्रा के योग भी इस वजह से इस समय निर्माण हो रहे हैं तो यात्रा आप जरूर करिये। परिवार के साथ में सुखद समय आप व्यतीत कर पाएंगे।

जून

जून में जब शुक्र देव भाग्य स्थान में संचरण कर रहा है उस समय किसी आपके यदि घर पुराना है तो उसको आप रिनोवेट कर सकते हैं गाड़ी की सर्विस आप करवा सकते हैं। नया वाहन खरीदने का योग यहां पर बन रहा है और विदेश यात्रा का भी योग यहां पर बन रहा है। यदि विदेश आप व्यापार के लिए नियमित रूप से जाते हैं तब भी एक ऐसा योग्यता पर निर्मित हो रहा है कि आप अपने परिवार को साथ में ले करके जा सकते हैं और यदि आपका कोई विदेश व्यापार से लेना देना नहीं भी है तब भी आपका इस वक्त परिवार के साथ में विदेश यात्रा का योग बन रहा है।
सरकार से किसी अनियमितता का नोट साहब को मिल सकता है सरकार के किसी विभाग का तो हो सकता है पुरानी कोई कर चोरी या जीएसटी से संबंधित हो सकता है तो उससे आपको बहुत ही तुलनात्मक और बहुत ही सावधानी के साथ में निपटना जरूरी है।

11 अगस्त से लेकर के 4 सितंबर

11 अगस्त से लेकर के 4 सितंबर तक ये जो कालखंड है इसमें शुक्र अपनी नीच राशि में आ जाएंगे और शुक्र से संबंधित जो रोग है खास तौर पर जीवनशैली से संबंधित रोग जैसे कि ब्लड प्रेशर डाइबिटीज इसमें कुछ बढ़ोतरी यहां पर हो सकती है और आप चाहकर भी अपनी जो दिनचर्या है उसको नियमित नहीं रख पाएंगे। प्रयास ये करें कि शरीर को समय दें,योग और प्राणायाम नियमित रूप से करें तो प्रेमी जोड़े हैं। उनको यहां पर थोड़ा सा निराशा हो सकती है। आप अपने प्रेमी या प्रेमिका से जो आशा जो विश्वास रखते थे उसमें कहीं न कहीं आपको खामी नजर आएगी और एक बड़ा धोखा भी यहां पर शुक्र आपको दिलवा सकते हैं।

6 सितंबर से लेकर के 1 अक्टूबर

6 सितंबर से लेकर के 1 अक्टूबर जब शुक्र वापस अपनी स्वराशि में आ रहे हैं तो ये ऐसे दंपत्तियों के लिए बहुत अच्छी खुशखबरी लेकर काटेंगे जो अलग रह रहे थे। किसी भी कारण से तो उनकी नजदीकियां बढ़ सकती है कोई समझौता कोई पैचअप हो सकता है और इसके लिए एक और सुझाव मैं यहां पर दूं कि आप दोनों के बीच में यदि कोई मध्यस्थ है कोई मीडिएटर है तो सबसे पहले तो उसको आप बाहर निकाल करके दूर कीजिए तभी आपके आगे का रिश्ता सुचारु रूप से चल पाएगा।

नवम्बर और दिसम्बर

अंतिम दो महीनों ये बहुत और बहुत ही ज्यादा आपको सावधानीपूर्वक बिताने चाहिए ,किसी अपने बहुत ही निकट व्यक्ति से आपको तकनीक के माध्यम से धोखा देने का प्रयास किया जा सकता है। हम आए दिनों पढ़ते हैं इस बार मत कि ओटीपी के नाम पर या कार्ड की जानकारी के नाम पर किसी के खाते से पैसे उड़ा लिए जाते हैं तो इस प्रकार के फोनकॉल से आप सावधान रहें, डिजिटल माध्यम से किसी भी प्रकार का लेन देन किसी भी प्रकार का संपर्क करने से पहले दस बार कनफर्म करें क्योंकि यही वो समय है जब आपको तकनीक से फायदे के बजाय नुकसान हो सकता है

ज्योतिष का कार्य ही यही है कि आपको पहले से ही सावचेत करना ताकि आप आने वाली परेशानी से बच सके और लाइन फ्रॉड से बच सकें तो साथ ही जो चर्चा हमने की आज शुक्र की राशि तुला की 2021 के लिए मेरी तरफ से आपको ढेर सारी शुभकामनाएं हैं और उपाय के लिए आपको शुक्रवार प्रति शुक्रवार को माता के किसी भी मंदिर में दर्शन करें और दर्शन के पश्चात किसी भी कुंवारी कन्या को लाल वस्त्र आप जरूर भेंट करें। यदि आप प्रति शुक्रवार को ऐसा नहीं कर पाते हैं तो आपको जब भी समय मिले कम से कम हर महीने प्रथम शुक्रवार को जरूर करें।